Karuna Foundation

 > Uncategorized >  Karuna Foundation
0 Comments


करुणा किसी अन्य की पीड़ा को महसूस कर उसकी सहायता की इच्छा उत्पन्न होने की भावना है। करूणा स्नेहपूर्वक किया गया उपकार है।

करुणा के बगैर मानवीय वृत्तियों पर प्रश्न चिह्न लग जाता है। अहिंसा, प्रेम, दान, दया आदि गुणों का अपना कोई अर्थ नहीं है। जब वे करुणा की कोख से जन्म लेते हैं तो उनका मूल्य बढ़ जाता है। करुणा और अहिंसा में फर्क है। करुणा सकारात्मक सोच है।

किसी के दुख-दर्द में भागीदार बनना
करुणा का अर्थ है किसी के दुख-दर्द में सक्रिय रूप से भागीदार बनना। यदि किसी के रास्ते में कांटे बिछे हैं तो कारुणिक व्यक्ति सहज भाव से उसे हटाएगा, परंतु अहिंसक व्यक्ति किसी के रास्ते में कांटें नहीं बिछाएगा। बस, इतने से ही वह संतुष्ट हो जाएगा। प्रेम और करुणा में फर्क है।

प्रेम में सुख है, करुणा में पीड़ा
एक पति अपनी पत्नी से बहुत प्रेम करता है, परंंतु उस पर मालिकाना हक कभी भी छोड़ने को तैयार नहीं होता। मालिक होना भी दुख का कारण है। प्रेम तो है, करुणा नहीं है। प्रेम में सुख है, करुणा में पीड़ा। प्रेम में रस है, करुणा में रिसता हुआ घाव। प्रेम फूल है, करुणा कांटों की चुभन। करुणा की कोख से जन्म लेकर अहिंसा सकारात्मक बनती है, दया निरहंकारी बनती है और प्रेम मुक्तिदायी बनता है।

Karuna Foundation is a Non-Profit Social Organization which works for the upliftment and rehabilitation of runaway child. They run away from their homes for various psychological or socio-economic reasons. We strive to reunite them with their families.
Karuna Foundation is provide the service solder family if solder dies while in service, his widowed or the mother of an unmarried solder will be given RS 1,00,000/-
We are help the Economically backward student those are best in 10’th and 12’th class we are provide a tuition fees .
Adaption of Girl child for the Education.
Already we nourishes 8 girls to complete their dreams.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

21 ÷ = 3

×

Hello!

Click one of our contacts below to chat on WhatsApp

× How can I help you?